फास्टेड कार्डियो व्यायाम क्या है और इसके क्या लाभ हैं/fasted cardio and it’s benefit

जब व्यायाम खाली पेट या उपवास की स्थिति में किया जाता है तो उसे fasted व्यायाम कहते हैं।

फास्टेड कार्डियो व्यायाम सो कर उठने के बाद सुबह-सुबह किया जाता है या अगर आप इंटरमिटेंट फास्टिंग कर रहे हैं तो दिन में भी इसे कर सकते हैं।

फास्टेड कार्डियो व्यायाम के क्या लाभ हैं

ऐसा माना जाता है की फास्टेड कार्डियो व्यायाम तेजी से वसा(चर्बी) कम करने का अच्छा तरीका है। पर इसके बारे में अभी कोई ठोस प्रमाण नहीं है।

बॉडीबिल्डर और “बॉडी-फॉर-लाइफ” के लेखक बिल फिलिप्स को 1999 में फास्टेड कार्डियो थ्योरी को पेश करने का श्रेय दिया गया है। अपनी पुस्तक में, वह बताते हैं कि मानव शरीर उपवास की स्थिति में व्यायाम करते समय वसा को ऊर्जा के लिए अधिकतम जलाता है। क्योंकि खाली पेट रहने की वजह से उसे ऊर्जा के लिए, कार्बोहाइड्रेट नहीं मिलता है। ये पुस्तक सफल रही और उपवास(fast) कार्डियो की उनकी अवधारणा तब से लोकप्रिय रही है।

जबकि, फास्टेड कार्डियो पर हाल ही में प्रकाशित शोध सीमित हैं, पर यह याद रखना चाहिए कि व्यायाम लाभ प्रदान करता है चाहे वह उपवास की स्थिति में किया गया हो या खाने के बाद। फास्टेड कार्डियो थ्योरी का तर्क है कि यदि आप खाली पेट व्यायाम करते हैं, तो आप अधिक वसा जला सकते हैं।

  • फास्ट कार्डियो के कुछ अन्य संभावित लाभ हैं:
  • फास्ट कार्डियो आपको व्यायाम के पहले से खाना तैयार करने, खाने और पचाने से बचाता है।
  • यदि आप इंटरमिटेंट फास्टिग करते हैं, तो उपवास कार्डियो आपको दिन में खाने से पहले व्यायाम करने की अनुमति देता है।
  • यदि आप खाली पेट वर्कआउट करना पसंद करते हैं, तो फास्टेड कार्डियो एक प्रभावी विकल्प हो सकता है, खासकर यदि आपका पेट संवेदनशील है या कसरत से पहले आप भोजन के बिना अधिक ऊर्जावान महसूस करते हैं।

फ़ास्ट कार्डियो से हो सकने वाले नुकसान

1. प्रोटीन के ऊर्जा के लिए इस्तेमाल होने से मांसपेशियों के निर्माण में कमी आ सकती है और अगर आप बॉडीबिल्डिंग करना चाहते हैं तो मांसपेशियों के गठन कमी आ सकती है।

2 अगर आप हाइ इंटेंसिटी वर्कआउट करते हैं तो आपकी प्रदर्शन क्षमता कम हो सकती है और आपको लो शुगर, लो ब्लड प्रेशर और पानी की कमी के लक्षण दिखाई दे सकते हैं।

Fast cardio किसे नहीं करना चाहिए

यदि आम तौर पर आपका स्वास्थ्य अच्छा रहता है, तो फास्टेड कार्डियो से कोई समस्या नहीं हो सकती है। हालांकि अगर आपको मधुमेह ,निम्न रक्त चाप,जैसी कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो इसे आजमाने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

फास्टेड कार्डियो व्यायाम के लिए कुछ सुझाव

  • बिना खाए 60 मिनट से ज्यादा फास्टेड कार्डियो न करें।
  • मध्यम से कम तीव्रता वाले वर्कआउट चुनें।हाई इंटेंसिटी वर्कआउट न करें।
  • फास्टेड कार्डियो में पानी शामिल है – इसलिए पानी पीते रहें ,हाइड्रेटेड रहें।
  • अगर fasted cardio व्यायाम की शुरुवात कर रहे हैं ,तो जॉगिंग,रनिंग, साइक्लिंग से शुरू करें,10 मिनट करें अगर नॉर्मल महसूस कर रहे हैं तो 30मिनट तक करें।
  • फास्टेड कार्डियो व्यायाम हफ्ते में 5 दिन करें और 2 दिन का विश्राम रखें।
  • व्यायाम के बाद में, संतुलित भोजन या प्रोटीन और कार्ब्स से भरे नाश्ता करें।

ब्लॉक कैसा लगा कृपया लाइक करें और सुझाव भी दें।

Vivekswarnkar द्वारा प्रकाशित

Dr. Vivek Swarnkar, an Orthopedic Surgeon with more than 15 years of experience.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: