Uncategorized

चेहरे पर चमक कैसे बढ़ाएं

अन्य अंगों की तरह त्वचा भी हमारे शरीर का एक अंग है, अपने सारे अंगों का जैसे ध्यान रखते हैं वैसे अपनी त्वचा का भी ध्यान रखना चाहिए।

हालाँकि, सुंदरता एक आंतरिक घटनाक्रम है। जैसा कि लोकप्रिय कहावत में कहा जाता है, सुंदरता हर व्यक्ति के दिल में होती है और यह स्वाभाविक रूप से किसी व्यक्ति के चेहरे पर चमक के रूप में दिखाई देती है। सुंदरता की परिभाषा त्वचा से परे है, फिर भी हमारी त्वचा इस सुंदरता की सबसे अधिक दिखाई देने वाली अभिव्यक्तियों में से एक है।

चेहरे की त्वचा पर खून की चाल अन्य अन्य जगहों की त्वचा पर खून की चाल से ज्यादा होती है इसलिए सामान्य तौर से चेहरे की त्वचा शरीर की अन्य जगहों की त्वचा से ज्यादा मुलायम होती है। सबसे पहले हम सुस्त त्वचा (dull skin)के कारणों के बारे में जानते हैं।

सुस्त त्वचा (dull skin)के कुछ कारण

  • नमी की कमी
  • निर्जलीकरण(dehydration)
  • मृत खाल का इकठ्ठा होना
  • शुष्कता(dryness)
  • तंबाकू का इस्तेमाल
  • उम्र का बढ़ना

शुष्क त्वचा को पुनर्जीवित कैसे करें

  • कम से कम 8 से 10 गिलास पानी रोज पिएं

यह सुनिश्चित करें कि आपके हाथ में हमेशा पानी हो, पूरे दिन अपने साथ पानी की बोतल रखें।
अगर आप पानी से थक जाते हैं तो हाइड्रेट करने के लिए हर्बल चाय या अन्य गैर-शर्करा पेय पिएं।

  • चीनी और नमक कम खाएं

नमक की मात्रा कम रखें क्योंकि ज्यादा नमक आपके चेहरे को फूला हुआ बनाता है ।

चीनी की रोज की खुराक 50 ग्राम से कम रखें।ज्यादा चीनी से खाल जल्दी बुड्ढी होती है।

  • मल्टीविटामिन लें

रोज एक मल्टीविटामिन या एंटीऑक्सीडेंट की गोली ले यह आपकी त्वचा को भी मुलायम रखता है और उम्र को बढ़ने से भी रोकने में सहायक है।

  • पसीना निकालें ,व्यायाम करें

रोज कार्डियो व्यायाम करें जैसे , दौड़ना,तैरना, जॉगिंग, आदि
पसीना निकलने के बाद ठंडे पानी का शावर लें।

  • खाने में ये शामिल करें

ओमेगा 3 फैटी एसिड: मछली, अखरोट, बादाम,सोयाबीन, सूखामेवा, अलसी, सूरजमुखी तेल सोयाबीन तेल, स्प्राउट्स, टोफू, गोभी इत्यादि में मिलता है।

  • विटामिन सी और फाइबर डाइट

इनमें एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव होता है जो कोलेजन-नष्ट करने वाले फ्री रेडिकल्स को रोकने में मदद कर सकता है।

विटामिन सी हाइपरपिग्मेंटेशन या डार्क स्पॉट्स को भी कम करने में मदद करता है, जिससे आपकी त्वचा समय के साथ और भी टोन्ड दिखती है।

अन्नानास,पपीता,स्ट्रॉबेरी, दालें,नारियल,केला,संतरा,नीबू,गोबी आदि में यह बहुतायत से मिलता है।

  • गरम पानी , साबुन से बचें
  • ल्यूकवर्म पानी का इस्तेमाल करें,सॉफ्ट साबुन लगाएं।

मुंहासे न होने दें

हर चार या पांच दिनों में अपने तकिए को बदल दें। एक ताजा, बैक्टीरिया मुक्त तकिए का कवर आपकी त्वचा को रातों-रात फटने से रोक सकता है।

अपने हाथों को अपने चेहरे से दूर रखें। यदि आप अपनी ठुड्डी को अपनी हथेली पर टिकाते हैं, तो यह न करें। आपके हाथों का तेल थोड़ी मात्रा में भी, मुंहासे की शुरूवात का कारण बन सकता है।

सोते समय अपने बालों को वापस बांध लें। यदि आपके लंबे बाल हैं, तो आराम करते समय इसे अपने चेहरे से दूर रखें। इसे अपने माथे से बैंग्स को दूर रखने के लिए पिन या हेडबैंड का उपयोग करें।

अगर मुंहासे या पिंपल हो गए हैं

  • पिंपल को न तोड़ें,यह। चेहरे पर स्कार(निशान) छोड़ सकता है
  • सैलिसिलिक एसिड वाले फेस वॉश से सुबह शाम धोएं

क्ले मास्क का इस्तेमाल करें

क्ले मास्क चेहरे पर लगाने से ग्लो के साथ-साथ मुंहासों, डेड स्किन और ब्लैक स्पॉट की समस्या भी दूर हो जाती है।

तेज धूप से बचें

हल्का सनस्क्रीन लगाकर निकलें और चमड़े को, सख्त होने से बचाएं। यह आपकी त्वचा को आने वाले कई वर्षों तक रूखी और कोमल बनाए रखेगी।

याद रखें, सनबर्न होने में केवल 15 मिनट लगते हैं, इसलिए तैयार रहें।
एसपीएफ़ 30 पर टिके रहें – कुछ भी अधिक होने से अधिक लाभ नहीं होता है।
स्प्रे-ऑन सनस्क्रीन के लिए मेकअप आइल खोजें जो हल्के और सूखे हों।
सनस्क्रीन के साथ फाउंडेशन या टिंटेड मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें, ताकि आपका चेहरा पहले से ही ढका रहे।

  • त्‍वचा से मृत कोशिकाओं को हटाना(exfoliation)

अगर नियमित रूप से स्किन को एक्‍सफोलिएट किया जाए तो त्‍वचा से मृत कोशिकाओं को हटाकर चेहरे को चमकदार बनाया जा सकता है।आप चाहें तो हफ्ते में दो से तीन बार स्किन को एक्‍सफोलिएट कर सकते हैं।

शहद के साथ मिश्रित चीनी का एक साधारण स्क्रब एक बेहतरीन एक्सफोलिएटर होता है। लगाने के बाद इसे गर्म पानी से धो लें।
आप चेहरे के लिए बने सूखे ब्रश से भी एक्सफोलिएट कर सकते हैं।एक्‍सफोलिएशन के दौरान एक बात का ध्‍यान रखें कि आपको सर्कुलर मोशन में ही अपने हाथों को चलाना है। एक्‍सफोलिशन सिर्फ कुछ मिनट तक ही होना चाहिए। स्किन को नमी देने के लिए एक्‍सफोलिएशन के बाद मॉइस्‍चराचर जरूर लगाएं।

सबसे आवश्यक है पौष्टिक खाना और प्रचुर मात्रा में पानी पीना ,प्रसन्न रहना , विचार शुद्ध रखना,यह आपकी आंतरिक और बाह्य दोनों सुंदरता बनाए रखता है।

ब्लॉग पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद कृपया सुझाव भी दें।

Dr. Vivek Swarnkar, an Orthopedic Surgeon with more than 15 years of experience.

Leave a Reply