Uncategorized

कैसे खुद चेक करें की आप का पोस्चर सही है या नहीं/how to check yourself that your posture is correct or not

21वीं सदी के युग में पोस्चर(मुद्रा) की समस्या बहुत ही आम हो गई है , यह चाहे ज्यादा देर बैठ कर काम करने की वजह से हो या फिर गैजेट पर गर्दन झुका कर काम करने की वजह से या फिर गलत तरीके से बैठने और खड़े होने की वजह से। और इस कारण बुजुर्ग ही नहीं युवा भी गर्दन में दर्द, पीठ में दर्द ,कमर में दर्द और हाथ पैर में दर्द की समस्या से ग्रसित हो रहे हैं कई बार हमें यह भी नहीं पता चल पाता है यह दर्द हमें किसी बीमारी की वजह से है या ,हमारे गलत मुद्रा में बैठने झुकने या खड़े होने की वजह से है। निश्चित रूप से यह बड़ा मुद्दा है क्योंकि खराब मुद्रा की वजह से आपका स्वास्थ्य गिर सकता है ,आपकी मांसपेशियां और जोड़ अपनी पूरी क्षमता से प्रदर्शन करने में असमर्थ हो सकते हैं और आप कैसे दिखते हैं, कैसे चलते हैं इस पर भी बड़ा असर पड़ता है। इस ब्लॉग में हम बुरे और सही पाश्चर के लक्षण देखेंगे और हम स्वयं कैसे अपना पोस्चर टेस्ट कर सकते हैं यह सीखेंगे।

सही पाश्चर क्या होता है और इसे कैसे देखेंगे?

Courtesy of freedomand fulfilment.com

आपका सर सीधा और न्यूट्रल पोजीशन में होना चाहिए यह आगे की ओर झुका हुआ नहीं होना चाहिए आपकी ठोड़ी सीधी और ऊपर सामने होनी चाहिए आपके कान कंधों की सीध में होनी चाहिए कंधे और कूल्हे की हड्डियां एक लाइन में होनी चाहिए और आपके घुटने और एड़ी भी एक सीध में होनी चाहिए अपना पोस्टर खुद देखने में कठिनाई हो सकती है इसलिए आप या तो किसी की मदद ले सकते हैं या एक आदम कद शीशे का सहारा ले सकते हैं या फिर कोई और आपकी सामने से और बगल से तस्वीर ले और फिर आप उस तस्वीर को निरीक्षण करके और उसे सही पाश्चर के साथ तुलना करके देख सकते हैं।

खुद पोस्चर टेस्ट कैसे करें

आप अपना पोस्चर घर पर ही बिना किसी मशीनरी की सहायता के कर सकqते हैं केवल एक आदमी की जरूरत होगी जिसके पास नापने की स्केल या नापने का टेप हो।

पहला तरीका: एक शीशे के सामने ऐसे खड़े हो ताकि आपके बगल का व्यू दिखाई दे अब यह देखिए की आपकी गर्दन आगे की ओर तो नहीं जा रही है, ठोड़ी और गर्दन ऊपर उठाएं ताकि आपके कान और कंधे एक लाइन में हो और आपके कान कंधार कूल्हा घुटना और एड़ी यह पांचों एक सीध में है या नहीं।

दूसरा तरीका:1.एक दीवाल से ऐसे सट कर खड़े हो जाएं ताकि आपका कंधा और कूल्हा दीवाल से चिपका हुआ हो और आपके पैर की एड़ी दीवाल से 6 इंच आगे हो ऐसी स्थिति में यह देखें कि अगर आपकी गर्दन और सर आगे की तरफ झुका हुआ है तो उसको पीछे की तरफ लाकर दीवाल से सटाने की कोशिश करिए लेकिन बिना कूल्हा और कंधा दीवाल से हटाए हुए ,अगर सर आपका दीवाल से नहीं सट रहा है तो आप का पोस्चर गलत है ।सर और दीवाल के बीच की दूरी को नापें यह दूरी अगर 2 इंच से ज्यादा है तो भी आप का पोस्टर गलत है। ।

2.अपनी कमर के निचले हिस्से में पीछे जगह में अपने हाथ को लेकर जाएं अगर हाथ आपकी कमर के निचले भाग पर अंदर आराम से चला जाता है तो आप का कमर का पोस्टर ठीक है और अगर नहीं जाता है तो पोस्चर ठीक नहीं और आपको लॉर्डोसिस जो सामान्यतः होती है वह नहीं है। इसके अलावा हाथ की मुट्ठी कमर के निचले भाग पर अंदर ले जाकर देखें अगर हाथ की मुट्ठी अंदर चली जाती है यह भी सामान्य नहीं है यानी कि आपकी कमर हाइपरलॉर्डोसिस में हो सकती है।

खराब पोस्चर सही करने या उससे बचने के कुछ व्यायाम

Child pose

कैट कॉउ व्यायाम

चेस्ट ओपनर

चाइल्ड पोज

पादहस्तासन

चिन टक

अधोमुखश्वानासन(downward facing dog)

वॉल स्लाइड

लंबर फोम रोलर(लॉर्डोसिस के लिए)

पाश्चर सही करने के लिए किए जाने वाले कुछ व्यायाम आप इस लिंक पर जाकर देख सकते हैं।https://youtu.be/jeRy1MqzhV4

कृपया लाइक और शेयर करें

Dr. Vivek Swarnkar, an Orthopedic Surgeon with more than 15 years of experience.

4 Comments

Leave a Reply